वेलेरियन रूट की सम्पूर्ण जानकारी |Valerian root in hindi

वेलेरियन रूट(valerian root )की जानकारी | उपयोग | फायदे | नुकसान 

वेलेरियन रूट जंगल ,उद्यान, तालाब या नदी के किनारे पर, और अधिकतम  रूप से नम मिट्टी में वेलेरियन उगाएं । वेलेरियन कहां बढ़ने के लिए हल्की धुप  है?  छाया जगह में उगाया जाता है । वेलेरियन के फूल के तने पत्ते के  1-1.5 मीटर तक बढ़ते हैं,

वैलेरिया रूट एक प्राकृतिक जड़ी बूटी है , अनिद्रा चिंता या अन्य साइकोलोजिकल स्ट्रेस को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। वेरेलियन का इस्तेमाल से रात की आरामदायक नींद और अपने दिनभर की स्ट्रेस को कम करने में बहुत ही प्रभावशाली और    इसमें अस्थिर तेल शामिल हैं जो जड़ी बूटी के sedating को बढ़ावा देने में मदद करता है | valerian  प्राकृतिक साइकिल के अनुरूप आराम को बढ़ावा देने में मदद करता है. स्मूद मसल को आराम देता है , वैलेरियन रूट (Valerian Root )का प्रयोग और निम्नलिखित बीमारियों के रोकथाम और लक्षणों के उपचार, नियंत्रण, और सुधार के के बारे में विस्तार पूर्वक जानेगे।

दवा का विवरण :-

निर्माता ‏ West Coast Pharmaceutical Works Ltd

विशेष सामग्री
Natural
खुराक फ़ॉर्म Capsule
ब्रांड HealthVit
प्रोडक्ट का वज़न ‏ 80 g

पैक करने वाला – West Coast Pharmaceutical Work Ltd,West Coast Pharamceutical Works Ltd, Meldi Estate .Near prasang party plot, opp . Sola Bhagwat, Ahmdabad-382481, GUJARAT(india)

वेलेरियन रूट(valerian root )के उपयोग एवं फायदे :-

वेरेलियन का इस्तेमाल निम्नलिखित में अवस्था किया जाता है |

  1. नींद संबधी विकार , ( अनिंद्रा की स्थिति में )
  2. चिंता और तनाव में
  3. नर्वस अवस्थमा में
  4. हिस्टीरिकल  स्टेट्स में
  5. उत्तेजना में
  6. (हाइपोकोंड्रीय ) बीमारी का डर में
  7. सिरदर्द
  8. पेट खराब में
  9. डिप्रेशन में
  10. हलके झटको में
  11. मिर्गी में
  12. मासिक धर्म और रजोनिवृत्ति से जुड़े लक्षणों में

इस्तेमाल करने का तरीका :-

वेलेरियन हॉप्स को नीबू या बाम या अन्य जड़ी -बूटी के साथ मिलाया जाता है , तो यह तंद्रा के उपचार में सहायक होता है | बेचैनी और नींद की बीमारी के दौरान भी कभी – कभी वेलेरियन को नहाने के पानी में मिलाया जाता है |

वेलेरियन रूट(valerian root ) की सामान्य खुराक :-

यह एक हर्बल सप्लीमेंट है, हर मरीज के लिए खुराक अलग -अलग है | आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र , स्वास्थ्य और कई स्थितियों पर निर्भर करती है |

अनिंद्रा की समस्या के लिए वेलेरियन को निम्न तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है |

  • चाय  :  1 कप उबलते पानी में 1( 2से 3 ग्राम ) चम्मच सूखे रूट या जड़ को डालें , 5 से   10 मिनट तक रहने दे |
  • टिंचर (1:5):मानक खुराक एक से आधा चम्मच (4से 6 मिलीलीटर ) है |
  • सूखे पाउडर एक्स्ट्रैक्ट (4:1)मानक खुराक 250 से 600 मिलीग्राम है

400-900 मिलीग्राम वेलेग्राम एक्स्ट्रेक्ट या अर्क का उपयोग सोने से 2 घंटे  पहले 28 दिनों तक किया जाता है |

चिंता के लिए : मानक खुराक 120 से 200 मिलीग्राम , प्रतिदिन 3 से 4 बार है |

वेलेरियन रूट(valerian root ) की  साइड इफेक्ट :-

आप सभी जानते है की किसी भी चीज की अधिकता उपयोग या लगतार उपयोग से नुकसान होता है।

  • उत्तेजना
  • बेचैनी
  • सिरदर्द
  • अनिंद्रा

इसका लंबे समय से प्रयोग करने के बाद ,इस्तेमाल बंद करने से होने वाला साइड इफेक्ट से बचने के लिए हफ्ते दर हफ्ते इसकी खुराक काम कर सकते है , जिससे साइड इफेक्ट धीरे -धीरे काम हो जायेगा।

सावधनियां एवं चेतावनियाँ :-

  1. अगर आपको किसी चीज से एलर्जी है ,तो इसका सेवन करने पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
  2. आप प्रेग्नेंट है और दवा लेने का विचार कर रहे है तो पहले अपने डॉ की सलाह से ले अन्यथा आपके होने वाले बच्चे को नुकसान हो सकता है। अपने डॉक्टर से बात करके , डॉक्टर के परामर्श के अनुसार दवा का सेवन करना चाहिए।
  3. किसी भी हर्बल सप्लीमेंट के सेवन करने के नियम उतने ही सख्त होते है , आप डॉक्टरी सलाह या बिना किसी सलाह वाली दवाओं का सेवन न करे।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न :-

प्र 1 . क्या यह शराब के साथ सुरक्षित है ?

नहीं, शराब से नींद और तंद्रा की शिकायत हो सकती है , तो वही वेलेरियन भी नीद का और उनींदापन का कारण हो सकती है | शराब  के साथ बड़ी मात्रा में वेलेरियन लेने से बहुत नींद आ सकती है।

प्र 2. शामक दवाओं के  साथ क्या यह सुरक्षित है ?

वेलीरियन नींद और उनींदापन का कारण हो सकती है | नीद के लिए इस्तेमल की जाने वाली दवाओं को शामक कहा जाता है | शामक दवाओं के साथ वेलेरियन लेने से अधिक नींद आ सकती है , सर्जरी में इस्तेमाल होने वाली शामक दवाओं के साथ वेरियन लेने से लंबे समय तक बेहोशी हो सकती है।

प्र 3 . लिवर  के लिए क्या यह सुरक्षित है ?

नहीं , वेलेरियन उस क्रिया के प्राभव को काम कर  सकती है , जहा लिवर कुछ दवाओं को जल्दी तोड़ देता है , ऐसी दवाओं के साथ वेलेरियन के इस्तेमाल से उनके इफेक्ट और साइड इफेक्ट हो  सकते है | वेलीरियन लेने से पहले , अपने डॉक्टर को उन दवाओं के बारे में सूचित करे , जो लिवर द्वारा बदली जा सके ,

प्र 4 .वेलेरियन रूट कानूनी है?

इसका अधिकतम उपयोग संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोपीय देशो में एक पूरक आहार के रूप में विक्रय किया जाता है, और आहार की खुराक को  के  रूप में लिया जाता है ना की दवा के  रूप में  इसलिए इसे गैर क़ानूनी नहीं माना गया है। खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा पूर्व-बाजार मूल्यांकन और अनुमोदन की आवश्यकता नहीं है, जब तक कि विशिष्ट बीमारी की रोकथाम या उपचार के लिए दावा नहीं किया जाता है । 
 प्र  5 वेलेरियन रूट को रख रखाव ?
दवा को ज्यादा गर्मी या तेज तापमान में नहीं रखना न ही ज्यादा ठण्ड में रखना चाहिए  इस लिए समान्य तापमान में रखना चाहिए। पैकेज में दिए  निर्देश के अनुसार सामन्य तापमान में रखे।  उपयोग का करने के बाद उसे जमीन के अंदर  ढक दे यहां वहाँ ना फेंके क्यों की जानवर या अन्य जीव खाने का डर रहेगा।

 प्र. 6  वेलेरियन रूट को से जगह में पाया जाता है ?

वेलेरियन जंगल ,उद्यान, तालाब या नदी के किनारे पर, और अधिकतम  रूप से नम मिट्टी में वेलेरियन उगाएं । वेलेरियन कहां बढ़ने के लिए हल्की धुप  है?  छाया जगह में उगाया जाता है । वेलेरियन के फूल के तने पत्ते के  1-1.5 मीटर तक बढ़ते हैं

 read more 

Social Share

Leave a Comment

AllEscort